अरुणाचल प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी के सांसद तपीर गाओ ने लगभग 20 घंटे पहले चीन की आर्मी पर भारतीय सीमा के भीतर घुसकर एक लड़के का अपहरण करने का आरोप लगाया था। अभी तक प्रधानमंत्री मोदी की तरफ से इसपर कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है। ये खबर भारत और चीन के बिगड़ते रिश्तों का ताज़ा उदहारण है।

युथ कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास ने पीएम पर निशाना साधते हुए कहा, “हमारे देश की सीमा के अंदर घुसकर, हमारे ही युवा का चीनी सेना ने अपहरण कर लिया। लेकिन 56″ प्रधानमंत्री का खून नही खौला।”

दरअसल, तपीर गाओ ने अपने ट्विटर के ज़रिए जानकारी दी है कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने 18 जनवरी को सियांग जिले के रहने वाले 17 वर्षीय मिराम तारोन का अपहरण कर लिया। तारोन के साथ उनका एक दोस्त भी था, जो बच निकला। गाओ ने भारत सरकार की सभी एजेंसियों से मदद मांगी है।

 

तपीर गाओ ने लड़के के अपहरण से जुड़ी जानकारी सबसे पहले पीटीआई को दी। सांसद ने पीटीआई को बताया कि घटना उस स्थान के पास हुई जहां से त्सांगपो नदी अरुणाचल प्रदेश से भारत में प्रवेश करती है। लड़का अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सियांग जिले का बताया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three + five =