adhir ranjan chowdhury

आज लोकसभा में स्पीकर नए अध्यक्ष का चुनाव हुआ। जिसमें राजस्थान के कोटा से बीजेपी सांसद ओम बिड़ला लोकसभा स्पीकर बनाए गए हैं। इस मौके पर नए लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला के बारे में बताते पीएम मोदी ने कहा कि अब हार्डकोर पॉलिटिक्स का जमाना नहीं, राजनीति के साथ अब समाजसेवा भी जुड़ गई है।

सदन में जहां एक तरफ पीएम मोदी ने ओम बिड़ला की जमकर तारीफ की। वहीं लोकसभा में विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी ने स्पीकर का स्वागत किया और साथ ही लगे हाथ पीएम मोदी को नसीहत भी दे डाली।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी आप जानते है हिंदुस्तान में किसान के हालत बुरे होते जा रहें है। हर रोज 36 किसान खुदखुशी हो रही है तो इससे बचाने के लिए आप ज़रूर पहल करेंगें ये उम्मीद मैं रखता हूँ।

इसके साथ ही उन्होंने पीएम मोदी को नसीहत देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री बाहर कहते है की पक्ष विपक्ष नहीं होगा सिर्फ निष्पक्ष होगा। बड़ा अच्छा कांसेप्ट है लेकिन भारत का जो संसदीय सिस्टम है मल्टीपार्टी डेमोक्रेसी है(बहुदलीय लोकतंत्र)।इसलिए पक्ष विपक्ष के साथ बहुपक्ष भी रहेंगे सिर्फ आपको (प्रधानमंत्री)को निष्पक्ष रहना पड़ेगा। आप ही इसे निष्पक्ष बना सकते है, क्योंकि ये कुर्सी निष्पक्ष होती है।

संसद में धार्मिक नारे लगाना ठीक नहीं

कांग्रेस सांसद ने धार्मिक नारों का ज़िक्र करते हुए कहा कि जब शपथ लेना शुरू हुआ तो कहीं जय श्रीराम तो अल्लाह हु अकबर कहीं जय काली के नारे लगे।

ये ठीक नहीं था ये सदन की मर्यादा के खिलाफ है। उन्होंने आगे हिंदू मुस्लिम एकता का ज़िक्र करते हुए कहा कि वो ही राम जो दशरथ का बेटा वो ही राम जो घर घर में लेटा वो ही राम जगत बसरे वो ही राम सबसे नीयारा।

दूसरी तरफ ये भी कहते है ‘ला इलाहा इल्लल्लाह और ‘मुहम्मदुर्रसूलुल्लाह तो हमें इस तरह का समाज बनाना चाहिए। जब मुल्ला को मस्जिद में राम नज़र आए जब पुजारी को मंदिर में रहमन नज़र आए दुनिया की सूरत बदल जायेगी जब इंसान को इंसान में इंसान नज़र आए।

आपको बता दें कि, पश्चिम बंगाल की मुर्शिदाबाद क्षेत्र की बहरामपुर लोकसभा सीट से लगातार पांचवी बार सांसद चुनकर आए अधीर रंजन चौधरी को कांग्रेस ने नेता विपक्ष बनाया है।