देश में चार विधानसभा सीटों और एक लोकसभा सीट पर 12 अप्रैल को हुए उपचुनावों के परिणाम आ चुके हैं। पश्चिम बंगाल की बालीगंज विधानसभा सीट पर करीब बीस हजार वोटों से टीएमसी उम्मीदवार बाबुल सुप्रियो ने जीत दर्ज की है। बाबुल सुप्रियो ने कहा, “ममता बनर्जी ने हमारा मार्गदर्शन किया। तेल के बढ़ते दामों की वजह से ही भाजपा की ये हालत हुई है। हमारे कार्यकर्ताओं ने बहुत मेहनत की।”

दरअसल, 12 अप्रैल को पश्चिम बंगाल की आसनसोल लोकसभा सीट पर उपचुनाव हुए। इसी के साथ-साथ पश्चिम बंगाल की बालीगंज, छत्तीसगढ़ की खैरागढ़, बिहार की बोचहां और महाराष्ट्र की कोल्हापुर विधानसभा सीटों पर भी मतदान हुआ था।

आसनसोल लोकसभा सीट पर भी टीएमसी के प्रत्याशी शत्रुघ्न सिन्हा ने भारी वोटों के साथ जीत दर्ज की है। उन्होंने कहा, “ममता बनर्जी इस देश की लोकप्रिय नेत्री हैं। 2024 के चुनाव के लिए वो गेम-चंगेर साबित होंगी। वो जहाँ भी जाएंगी, हम उनके साथ जाएंगे।”

ममता बनर्जी ने सभी को धन्यवाद करते हुए लिखा, मैं एआईटीसी पार्टी के उम्मीदवारों को ये निर्णायक जनादेश देने के लिए आसनसोल संसदीय क्षेत्र और बालीगंज विधानसभा क्षेत्र के मतदाताओं को तहे दिल से धन्यवाद देती हूं। हम इसे अपने मा-माटी-मानुष संगठन के लिए अपने लोगों का हार्दिक शुभो नबाबर्शो उपहार मानते हैं। हम पर फिर से भरोसा करने के लिए मतदाताओं का बहुत शुक्रिया और उन्हें सलाम।”

बिहार में बोचहाँ विधानसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव के परिणाम आ चुके हैं। राष्ट्रीय जनता दल के अमर पासवान ने बीजेपी की बेबी कुमारी को 36653 मतों से हरा दिया है। विकासशील इंसान पार्टी की गीता कुमारी को 29279 वोट मिले हैं।

छत्तीसगढ़ के खैरागढ़ में कांग्रेस की यशोदा वर्मा को बड़ी जीत मिली है। उन्होंने भाजपा की कोमल जंघेल को 20 हजार से भी अधिक वोटों से हराया है। तो वहीँ महाराष्ट्र की कोल्हापुर विधानसभा सीट पर कांग्रेस-एमवीए उम्मीदवार जयश्री जाधव ने भाजपा के सत्यजीत कदम को 18,750 वोटों के अंतर से हराया है।

कुल मिलाकर, उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी को हार का सामना करना पड़ा है। अन्य दल के नेताओं और उनके समर्थकों का कहना है कि देश में बढ़ती महंगाई के चलते जनता का भाजपा पर से भरोसा उठ गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 − fourteen =