• 4.3K
    Shares

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) भले ही ख़ुद को कामदार यानी काम करने वाली पार्टी बताती हो, लेकिन हक़ीक़त यह है कि पार्टी काम से ज़्यादा चुनाव प्रचार पर तवज्जो देती नज़र आ रही है।

2019 के लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए पार्टी ने इतने चार्टर्ड और हेलिकॉप्टर बुक करा लिए हैं कि कांग्रेस को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहै है। कांग्रेस को अपने प्रचार के लिए हेलिकॉप्टर और चार्टर्ड नहीं मिल रहे हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने दावा किया है कि बीजेपी ने चुनाव प्रचार के लिए पहले से ही सभी हेलिकॉप्टर और चार्टर्ड बुक करा लिए हैं, जिसकी वजह से कांग्रेस को संघर्ष करना पड़ रहा है। बीजेपी की प्री-बुकिंग के कारण कांग्रेस को एक भी हेलिकॉप्टर या चार्टर्ड नहीं मिल रहे हैं।

संतोषी भात-भात कहते भूख से मर गई और CM रघुवर ने प्रचार पर खर्च कर दिए 323 करोड़ रू

कांग्रेस नेता ने इंडिया टुडे से बात करते हुए कहा, ‘हमें हेलिकॉप्टर या चार्टर्ड प्लेन नहीं मिल रहे हैं। बीजेपी ने आगामी लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए सभी हेलिकॉप्टर बुक करा रखे हैं। हम संघर्ष में हैं।’

उन्होंने आगे कहा कि बीजेपी 4000 करोड़ रुपये से ज्यादा चुनाव प्रचार में खर्च कर रही है। आनंद शर्मा के मुताबिक, ‘बीजेपी और कांग्रेस के बीच संसाधनों की बात करें तो दोनों के बीच गहरी खाई नज़र आती है।

कांग्रेस नेता ने यह भी दावा किया कि बीजेपी प्रचार के मामले में सबसे आगे है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक पार्टियों की बात तो छोड़िए बीजेपी ने तो बड़ी-बड़ी अंतरराष्ट्रीय कंपनियां जैसे अमेजन-फ़्लिपकार्ट आदि को भी पीछे छोड़ दिया है।

शर्मा के मुताबिक, पब्लिक अंडरटेकिंग वाले महकमें भी अलग से बीजेपी के प्रचार में लगे हैं। पैसों के मामले में तो बीजेपी कुबेर है। प्रचार का डॉटा देखें तो बीजेपी का हिस्सा 95 फीसदी है और बाकी बचे हिस्से में सभी पार्टियां शामिल हैं।