• 3.5K
    Shares

अपने साढ़े 4 साल के कार्यकाल के दौरान एक भी लाइव प्रेस कांफ्रेंस नहीं करने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अब खुद बीजेपी के कार्यकर्ताओं से लाइव बातचीत नहीं करेंगे।

ऐसा इसीलिए कि एक इवेंट के दौरान बीजेपी के कार्यकर्ता के द्वारा पूछे गए सवाल पर पीएम मोदी की काफी किरकिरी हो रही है, इससे पार्टी सावधान हो गई है।

दरअसल, पुद्दुचेरी के कार्यकर्ताओं से पीएम मोदी ‘नमो एप’ के जरिए लाइव संवाद कर रहे थे। इस दौरान एक कार्यकर्ता ने उनकी सरकार पर टैक्स का बोझ लादने की शिकायत कर दी, इसपर मोदी असहज हो गए थे। उस समय बीजेपी कार्यकर्ता के प्रश्न को पीएम मोदी टाल गए थे।

इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद लोगों ने मोदी के अभी तक प्रेस कांफ्रेंस नहीं करने से जोड़कर देखा। सोशल मीडिया पर सभी ने कहा कि मोदी को अपनी सरकार की आलोचना तनिक भी पसंद नहीं है।

अंग्रेज़ी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक जिन बीजेपी कार्यकर्ताओं को पीएम मोदी से सम्मलेन में सवाल पूछना है उन्हें अब कार्यक्रम से 48 घंटे पहले अपने मोबाइल से सवाल शूट करके पार्टी को भेजने पड़ रहे हैं।

इसके लिए पार्टी के द्वारा कार्यकर्ताओं को सूचित भी किया जा चूका है। लाइव संवाद के दौरान सवाल पूछने वालों का फिल्म की तरह कई बार परिक्षण किया जा रहा है।

यानि अब से पीएम मोदी से सिर्फ अच्छे और उनकी तारीफ करने वाले सवाल ही पूछे जाएंगे! बीजेपी नहीं चाहती है कि पुद्दुचेरी जैसा वाकया दुबारा हो जिससे पीएम मोदी सिर्फ एक सवाल पर असहज हो जाएं और उनकी किरकिरी हो।

बता दें कि पुद्दुचेरी में बुधवार को मोदी अपनी सरकार का विकास बीजेपी कार्यकर्ताओं के सामने रख रहे थे। इसी दौरान बीजेपी कार्यकर्ता निर्मल कुमार जैन ने पीएम मोदी से शिकायत करते हुए सवाल किया कि, “आपकी सरकार हर तरीके से टैक्स वसूली करने में जुटी हुई है।

मिडिल क्लास, आईटी सेक्टर, लोन मिलने की प्रक्रिया में राहत देने की उम्मीद कर रहा था। लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। मेरी आपसे अपील है कि आपकी पार्टी की जड़ मिडिल क्लास में है, इसका आप उसी तरह से ख्याल रखें जिस तरह से आप उनसें टैक्स लेते हैं।”

निर्मल जैन के सवाल का जवाब जिस तरह से पीएम मोदी ने दिया वो हैरान करने वाला था। उन्होंने जवाब में कहा, “शुक्रिया। क्योंकि आप कारोबारी हैं, इसीलिए कारोबार की बात करेंगे। मैं इसपर ध्यान दूंगा।” इतने महत्वपूर्ण सवाल के जवाब में पीएम कन्नी काटते हुए दिखाई दिए। वो भी बीजेपी कार्यकर्ता के सवाल पर!

फिर उस दिन की कल्पना ही की जा सकती है कि देश के पत्रकारों के सामने मोदी लाइव प्रेस कांफ्रेंस करेंगे तो क्या होगा। क्योंकि अब बात सिर्फ पीएम की प्रेस कांफ्रेंस तक ही सिमित नहीं है बल्कि बात जनता के सवाल की है।