• 14.6K
    Shares

मोदी सरकार में ऐसे तो कई नारे मशहूर हुए। मगर उनमें से एक नारा ये भी बुलंद हुआ जो कुछ यूं था ‘मोदी जब जब डरता है पुलिस को आगे करता है’। मगर अब लगता है नारा बदलने की बारी आ चुकी जो कुछ यूं होगा ‘मोदी जब जब डरता है संबित पात्रा को आगे करता है’। ऐसा इसलिए क्योंकि प्रेस कांफ्रेंस में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से जब सवाल पूछा गया तो उन्होंने जवाब नहीं दिया।

दरअसल आजतक रिपोर्टर मौसमी सिंह ने सवाल किया- कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी कहते है कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने कार्यकाल में एक भी प्रेस वार्ता नहीं कि है, आप हमारी प्रेस वार्ता देख सकते है।

पत्रकार ने पूछा- 4 साल में PM मोदी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस क्यों नहीं की, अमित शाह बोले- इसका जवाब संबित पात्रा देंगे

शाह ने इसके जवाब में दो टूक कहा कि राहुल जी का जवाब संबित पात्रा जी देंगे।

शाह के इस रवैये पर कांग्रेस कि तरफ से प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि बीजेपी 132 करोड़ लोगों की बेज्जती कर रहें है, ये प्रेस का अपमान है। कांग्रेस प्रवक्ता रनदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि इस तरह की चीज़े लोकतंत्र को कमजोर करती है।

अमित शाह ‘जनता’ से दूरी क्यों बनाते जा रहे है, क्या वो उनसे ‘आंख’ मिलाने से डरते हैं : रवीश कुमार

उन्होंने कहा कि ये बीजेपी घमंड दर्शा रही है वो कोई जवाब नहीं देंगें क्योंकि वो राजस्थान की प्रेस वार्ता में ये कर चुके है जहां उन्होंने एक पत्रकार के सवाल पूछने पर कहा था कि पत्रकार को ही चुप करा दिया।

सुरजेवाला ने कहा कि ये लोकतंत्र का अपमान है की आप सवाल पूछने का हक़ नहीं दे रहें है।

वहीँ सोशल मीडिया पर एक यूजर ने पत्रकार की तारीफ करते हुए लिखा- सेल्फी-पत्रकारिता के दौर में अमित शाह से इस तरह का उचित सवाल करना कितना मुश्किल है. हम सभी जानते हैं…..

मौसमी सिंह जी की इस बहादुरी के लिए उनको दिल से सलाम…..

बता दें कि पीएम मोदी ने अपने कार्यकाल में एक भी प्रेस कांफ्रेंस नहीं की है। हालाकिं न्यूज़ चैनलों से बात करते रहें है मगर सीधे सीधे पत्रकारों के सवाल लेने में हमेशा से पीछे रहें है।

वहीं अगर कांग्रेस की बात करें तो राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद लगातार प्रेस कांफ्रेंस कर रहें है और जवाब भी देते हुए नज़र आते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here