हम मुस्लिम हैं और हमारे पास झंडा है, झंडा है मौला अली की बहादुरी का, झंडा है हजरत उमर के शौर्य का। तुम हिंदुओं के पास यह झंडा नहीं है, यह तुम्हारे हाथ में नहीं है। ये बयान है पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के सूचना एवं सांस्कृतिक मंत्री का। जिन्हें ये बयान देने के बाद अपने पद से इस्तीफा देने को मजबूर होना पड़ा।

इस बारें में बकायदा सोशल मीडिया पर सत्ताधीश पार्टी पाकिस्तान-तहरीक ए-इंसाफ (PTI) के ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर जानकारी दी गई कि पंजाब सरकार ने हिंदू समुदाय के बारे में अपमानजनक टिप्पणी के बाद फैयाज चैहान को पंजाब के सूचना मंत्री के पद से हटा दिया है।

अब जब उन्हें पद से हटा दिया गया तो सरहद के इस पार यानी भारत में इस मामले को लेकर मोदी सरकार को नसीहत दी जा रही है।

पाकिस्तान में हिंदू विरोधी बयान देने वाले मंत्री के ख़िलाफ़ कार्रवाई, अलका बोलीं- भारत को इससे सीखना चाहिए

पत्रकार आशुतोष ने सोशल मीडिया लिखा, पाकिस्तान ने हिंदुओं के ख़िलाफ़ बोलने वाले को बर्खास्त किया है। क्या भारत में भी मुसलमानों के ख़िलाफ़ ज़हर उगलने वालों को मोदी जी करेंगे बर्खास्त?

आशुतोष ऐसा इसलिए कह रहें क्योंकि आए दिन मोदी सरकार में बैठे मंत्री कभी भारत के मुसलमानों को पाकिस्तान भेजने की बात करते हैं तो कभी सीधे उन्हें पाकिस्तानी ही करार दे देते है।

पाकिस्तान में हिंदुओं के ख़िलाफ़ बयान देने पर मंत्री की हुई छुट्टी, पत्रकार बोलीं- ऐसी कार्रवाई भारत में कब होगी?

मगर इसपर बीजेपी ये कहकर अपना पल्ला झाड़ लेती है की ये मंत्री का व्यक्तिगत बयान है पार्टी इससे सहमत नहीं है मगर पाकिस्तान में ऐसा बयान नहीं दिया गया उन्हें सीधे बाहर का रास्ता दिखाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 − 19 =