उत्तर प्रदेश में चुनाव हो जाने के बाद भी आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला थम नहीं रहा है। भाजपा बहुतम के जादूई आंकड़े को प्राप्त कर चुकी है। वही सपा 125 सीटों पर जीत दर्जकर प्रदेश की दूसरी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में सामने आयी है।

भाजपा को तो मिल गयी है लेकिन धांधली के आरोप अब भी लग रहे हैं। सोशल मीडिया पर एक ऑडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक व्यक्ति दावा कर रहा है कि वोटिंग के ठीक बाद उसके सामने EVM बदल दिया गया। ये दावा करने वाला व्यक्ति खुद को टीचर बता रहा है, जिसकी चुनाव में ड्यूटी लगी थी। ऑडियो में व्यक्ति ये कहते सुना जा सकता है कि इस बार सामाजवादी सरकार नहीं आएगी क्योंकि चुनाव में ईवीएम के साथ काफी हेरफेर हो रहा है। वह खुद को सपा समर्थक बताते हुए कहता है कि स्ट्रॉन्ग रूम में पहुंचने से पहले ईवीएम बदल दिए गए। हालांकि बोलता हिन्दुस्तान इस ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है।

ऑडियो सामने आने पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अमुक शिक्षक के लिए सुरक्षा की मांग की है। अखिलेश यादव ने ट्वीट किया है कि ”EVM बदले जाने को लेकर एक चुनाव अधिकारी की किसी से बात की जो ऑडियो रिकार्डिंग सोशल मीडिया पर चल रही है, माननीय उच्चतम न्यायालय और राष्ट्रपति महोदय उसका संज्ञान लें व सरकार संबंधित व्यक्ति को तुरंत संपूर्ण सुरक्षा दे। किसी एक व्यक्ति का जीवन हमारे लिए सरकार बनाने से ज़्यादा अहम है।”

बता दें कि वोट काउंटिग से एक दिन पहले विपक्ष ने ईवीएम बदले जाने को मामला जोरशोर से उठाया था। उस दौरान कही कचड़े की गाड़ी से ईवीएम पकड़ा गया था, तो कहीं लेखपाल बैलेट पेपर के साथ पकड़ा गया था। ऐसे में सोशल मीडिया पर वायरल ऑडियो विपक्ष के आरोपों को पुष्ट कर रहा है। सवाल उठता है कि चुनाव के दौरान लगभग मौन रहने वाला चुनाव आयोग क्या चुनाव बीतने के बाद कोई कदम उठाएगा?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

ten − 9 =