उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी और आजाद पार्टी का गठबंधन नहीं होगा। लखनऊ में शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चंद्रशेखर ने कहा कि अखिलेश यादव को दलितों की जरूरत नहीं है। हम समाजवादी के साथ गठबंधन में नहीं जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि मेरी लड़ाई कभी भी सत्ता की नहीं रही है। 1 महीना 10 दिन से प्रयास किया लेकिन अखिलेश यादव से कोई जवाब नहीं मिला, कल (शुक्रवार को) हमारा विश्वास टूट गया जब अखिलेश से कोई जवाब नहीं मिला। यह लड़ाई प्रतिनिधित्व की है। अखिलेश यादव को दलित समाज की जरूरत नहीं है, उन्हें मेरी बधाई।

चंद्रशेखर के आरोप पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा है कि, ”समजवादी पार्टी से उन्होंने (भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद) जो भी बात की मैंने उनकी बात मानी और रामपुर मनिहरन और गाज़ियाबाद वाली सीटें उनको दी। उन्होंने किसी से फोन पर बात करने के बाद मुझको बताया कि वह चुनाव साथ में नहीं लड़ सकते।”

बता दें कि आजाद समाज पार्टी के संस्थापक अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने शुक्रवार को सपा दफ्तर में अखिलेश यादव से मुलाकात की थी। दोनों नेताओं के बीच करीब एक घंटे तक बैठक हुई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × 5 =