Rajasthan
Rajasthan
  • 11.4K
    Shares

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बड़े नेताओं द्वारा मध्य प्रदेश में सत्ता पलट करने के बाद लगातार कांग्रेस की सरकारें गिराने का सिलसिला जारी है। 19 जून को हुए राज्य सभा चुनावों के दौरान खबर आई थी कि बीजेपी राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार गिराने की कोशिश में है। मुख्यमंत्री गहलोत ने खुद इस बात की तस्दीक की थी कि, भाजपा कांग्रेस विधायकों को खरीदने के लिए 25-25 करोड़ का ऑफर दे रही है।

लेकिन अब अशोक गहलोत की सरकार गिराने की साजिश को खुद राजस्थान सरकार ने खुलासा किया है। इसके लिए राजस्थान सरकार ने जयपुर में स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने एक एफआईआर दर्ज की है। एफआईआर में लिखा हुआ है कि, “स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप 13 को अवैध हथियारों और विस्फोटकों की तस्करी को लेकर टेलीफोन टैपिंग कर रहा था।

उस दौरान एक मोबाइल नंबर 9929229909 की कॉल रिकॉर्डिंग हुई, जिसमें कॉल को सुनने के बाद पता लगा कि अशोक गहलोत सरकार को गिराने की साजिश हो रही है। इस फोन टैपिंग से राजस्थान में मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा पर कई सनसनीखेज खुलासे हुए हैं।

एफआईआर के मुताबिक, कॉल में ऐसी बात की जा रही है कि मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री के बीच लड़ाई चल रही है। ऐसी स्थिति में सत्तारूढ़ कांग्रेस और निर्दलीय विधायकों को तोड़कर सरकार गिराई जाए। कॉल से ये भी जानकारी मिली है कि कुशलगढ़ से विधायक रमिला खड़िया को एक भाजपा नेता द्वारा मोटे पैसे का प्रलोभन देकर अपने पक्ष में करने का प्रयास किया जा रहा है।

यही नहीं राजस्थान के 26 कांग्रेस विधायकों ने बीजेपी पर बहुत बड़ा आरोप लगाया है। इन 26 सों विधायकों ने कहा कि, “बीजेपी खरीद फरोख्त के हथकंडे अपना कांग्रेस सरकार को गिराने कि कोशिश कर रही है। 26 विधायकों ने विज्ञप्ति जारी की है।”

सुत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस विधायकों और निर्दलीय विधायकों को 20 से 25 करोड़ रुपये देने के प्रलोभन देने की बात सामने आ रही है।

ऊपर के नंबरों की की कॉल में ये भी सामने आया है कि वर्तमान गहलोत सरकार को गिरा कर नया मुख्यमंत्री बनाया जाए लेकिन भाजपा का कहना है कि मुख्यमंत्री हमारा होगा और उपमुख्यमंत्री को केंद्र में मंत्री बना दिया जाएगा। लेकिन उपमुख्यमंत्री का कहना है कि मुख्यमंत्री वही बनेंगे।

बातचीत में यह भी सामने आया है कि इस वर्तमान सरकार को गिरा कर नई सरकार का गठन करवा कर ये लोग 1000 से 2000 करोड़ रुपये कमा सकते हैं। यह भी कहते हैं कि यह तभी होगा जब इनके हिसाब से मुख्यमंत्री बनेगा। मंत्रिमंडल विस्तार के बारे में कहा गया है कि विस्तार करेंगे तो चार मंत्री आएंगे और 6 नाराज होंगे।

बता दें कि बीजेपी पर कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस के विधायकों को खरीदकर उन्हें अपने पाले में लाने की बात सामने आई थी। यही कारनामा अभी हाल ही में मध्यप्रदेश में बहुमत की सरकार चला रहे कमलनाथ की सरकार गिराकर बीजेपी ने किया है। अब राजस्थान में सरकार गिराने की साजिशें चल रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here