• 3.5K
    Shares

14 फरवरी को भारत प्रशासित कश्मीर के पुलवामा में बड़ा चरमपंथी हमला हुआ। इस हमले में केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल (CRPF) के 44 जवानों की मौत हो गई। इस आत्मघाती हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तानी चरमपंथी संगठन जैश ए मोहम्मद ने ली है।

देश शोक में हैं। तमाम प्रभावशाली लोगों और संस्थान अपने अपने तरीके से पाकिस्तान का विरोध कर रहे हैं। हमले के अगले ही दिन बॉलीवुड के मशहूर लेखक-शायर जावेद अख्तर और शबाना आजमी ने कराची आर्ट काउंसिल में हिस्सा लेने से मना कर दिया। भारत सरकार ने पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस ले लिया।

वहीं दूसरी तरफ कुछ ऐसे स्वघोषित राष्ट्रवादी संस्थान भी हैं जिन्होंने पुलवामा हमले के अगले दिन पाकिस्तानी कलाकारों के साथ गीत-संगीत कार्यक्रम किया।

जी हां, भारत में खुद को राष्ट्रवादी ग्रुप क्लेम करने वाला Essel Group ने 15 फरवरी को दुबई में पाकिस्तानी कलाकारों के लाइव कॉन्सर्ट स्पॉन्सर किया। खुद को राष्ट्रवादी न्यूज चैनल कहने वाला zee news भी इसी Essel Group का है। भाजपा के करीबी सुभाष चंद्रा Essel Group के चेयरमैन हैं।

दुबई में ये पाकिस्तानी कलाकारों का ये कार्यक्रम पुलवामा हमले के अगले दिन यानी 15 फरवरी को हुआ था। नीचे आप कार्यक्रम की तस्वीर देख सकते हैं। तस्वीर में लिखा है BIG ZEE Presents ALL FOR LOVE. तस्वीर में सबसे नीचे Zee TV, Zee5 और 106.2 BIG FM का भी नाम है। ये सभी Essel Group के ही संस्थान है।

Zee TV Middle East‏ ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से पाकिस्तानी कलाकारों की तारीफ करते हुए कार्यक्रम की एक वीडियो क्लिप शेयर की है। Zee TV Middle East ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा ‘क्या आपने कार्यक्रम का उतना आनंद लिया जितना हमने लिया?’

NDTV के पत्रकार औनिन्द्यो चक्रवर्ती इस वीडियो क्लिप को शेयर करते हुए लिखा है ‘हाँ, हमने आपका उतना ही आनंद लिया, जितना Zee जी ने। सुभाष चंद्र को सलाम’ 

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने भी लाइव कॉन्सर्ट की तस्वीर शेयर करते हुए Zee पर तंज कसा है।

हालांकि Essel Group के एक संस्थान WIONews ने दुबई में आयोजित अपने ग्लोबल समिट से पाकिस्तानी वक्ताओं का निमंत्रण वापस ले लिया है। ये ग्लोबल समिट 20 फरवरी को होने वाला है। इसकी जानकारी खुद जी न्यूज के एडिटर इन चीफ सुधर चौधरी ने ट्वीटर पर दी।

लेकिन सुधीर चौधरी ये बताना भूल गए कि Essel Group ने पुलवामा हमले के अगले ही दिन पाकिस्तानी कलाकारों के साथ गीत-संगीत किया।

Hypocrisy ?