gargi students
Gargi Students

नागरिकता कानून के विरोध में जहां प्रदर्शन किए गए, वहीं समर्थन में भी कई रैलियां निकाली गईं। विरोध में हुए प्रदर्शनों के दौरान कुछ तोड़फोड़ की घटनाएं सामने आईं, जिसके बाद प्रदर्शन पर सवाल खड़े किए गए। लेकिन समर्थन में की गई रैलियों के दौरान जो कुछ भी हुआ, उसपर कोई चर्चा नहीं हुई।

समर्थन में की गई रैलियों में कभी ‘गोली मारो’ के नारे लगाए गए, तो कभी रैली में शामिल लोगों द्वारा कथित तौर पर छात्राओं के साथ छेड़खानी की गई। दरअसल, दिल्ली के गार्गी कॉलेज में छात्राओं के साथ की गई छेड़खानी मामले में कुछ नए ख़ुलासे सामने आए हैं। बताया जा रहा है कि जिन बदमाशों ने कॉलेज परिसर में घुसकर छात्राओं के साथ बदसलूकी की, वो नागरिकता कानून के समर्थन में रैली कर रहे थे।

गार्गी कॉलेज में छात्राओं से छेड़छाड़, आतिशी बोलीं- ये हाल अमित शाह के गृहमंत्री बनने के बाद हुआ है

समाचार एजेंसी आईएएनएस को छात्राओं ने बताया कि कैंपस में घुसकर छात्राओं से बदसलूकी करने वाले बदमाश ख़ुद को नागरिकता कानून का समर्थक बता रहे थे। गार्गी कॉलेज की ही एक छात्रा ने अपने ब्लॉग में लिखा, “लड़कियों के साथ छेड़खानी करने वाले ये बदमाश ‘जय श्री राम’ के नारों का उद्घोष कर रहे थे। जिससे ये लगा कि बदमाश किसी हिंदुत्ववादी संगठन से हैं और बीजेपी से जुड़े हैं”।

बता दें कि गुरुवार की शाम 6.30 बजे कॉलेज में ऐनुअल फंक्शन के दौरान कथित तौर पर तकरीबन 100 बदमाश कॉलेज का गेट तोड़कर कैंपस के अंदर घुस गए थे। इसके बाद ये बदमाश कार्यक्रम में रुकावट पैदा करने लगे। जब छात्राओं ने इसका विरोध किया तो बदमाशों ने उनको दबोच लिया और बदतमीज़ी की।

जानलेवा हुआ मोदीराज! मंदी से परेशान शख्स ने पहले बेटे-बेटी को मारा फिर खुद कर ली आत्महत्या

छात्राओं का आरोप है कि पुलिस ने भी बदमाशों के ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई नहीं की। छात्राएं बदमाशों के ख़िलाफ़ कार्रवाई किए जाने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here