parkash singh badal
Parkash Singh Badal
  • 14.5K
    Shares

राजधानी दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर शिवसेना के बाद अब भाजपा की सबसे पुरानी सहयोगी पार्टी शिरोमणि अकाली दल दिल्ली पुलिस पर सवाल खड़ा कर रही हैं।

दिल्ली दंगों को लेकर शिरोमणि अकाली दल के नेता और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल (Parkash Singh Badal) ने कहा कि ‘देश में ना धर्मनिरपेक्षता, समाजवाद और ना ही लोकतंत्र बचा है।’

चुनाव में गली-गली जाकर पर्चे बांटने वाले अमित शाह बताएं- जब दिल्ली जल रही थी तब वो कहां थे? : शिवसेना

दिल्ली में हुए हिंसा और लोगों की मौत पर भाजपा को एक के बाद एक उसके सहयोगी पार्टी सवाल कर रहे हैं। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री और शिरोमणि अकाली दल के नेता प्रकाश सिंह बादल ने कहा- ”हमारे देश से तीन चीजें ख़त्म हो रही है, धर्मनिरपेक्षता, समाजवाद और लोकतंत्र। लोकतंत्र भी केवल दो जगह बच गई है एक लोकसभा चुनाव और दुसरा विधानसभा चुनाव बाकी कुछ नहीं।”

वहीं इससे पहले भी अकाली दल के सांसद नरेश गुजराल ने भी दिल्ली दंगे को लेकर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की लापरवाही पर सवाल उठाया था। उन्होंने कहा कि दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान दिल्ली पुलिस की ‘निष्क्रियता’ ठीक वैसी ही है जैसी हमने 1984 में देखी थी, कोई भी भारतीय 1984 जैसा दंगा नहीं देखना चाहता होगा।

दंगा भड़काने वाले कपिल मिश्रा को सपोर्ट और विश्वविद्यालय बनाने वाले आज़म खान को जेल! ये कैसा न्याय है?

बता दें की दिल्ली में हुए दंगा को लेकर भाजपा के पूर्व सहयोगी शिवसेना (Shivsena) ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और देश के गृहमंत्री अमित शाह पर सवाल किया है। शिवसेना ने कहा है की दिल्ली पुलिस केंद्र सरकार के अंतर्गत आती है जो हिंसा के वक़्त कोई करवाई नहीं कर रही थी। जिसकी वजह से बहुत लोग की जान चली गयीं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here