उत्तर प्रदेश में बीजेपी नुकसान की तरफ बढ़ रही है। ये नुकसान कोई और नहीं बल्कि उनके अपने सहयोगी दल सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने दिया है। लंबे वक़्त के इंतजार के बाद उन्होंने अब योगी कैबिनेट से इस्‍तीफा दे दिया है।

ओम प्रकाश राजभर ने योगी सरकार से इस्तीफा देते हुए बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाए है। राजभर ने कहा कि बीजेपी एक भी सीट देने को तैयार नहीं थी। उन्होंने कहा कि भाजपा चाहती थी कि वह कमल के सिंबल पर लोकसभा चुनाव लड़ें।

राजभर ने कहा कि जब मुझे अपने सिंबल पर चुनाव लड़ने की पेशकश की थी तभी मैंने 13 अप्रैल की रात को राज्य मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था।

उन्होंने कहा कि मैंने बीजेपी से कहा था कि मैं अपने सिंबल पर चुनाव लड़ना चाहता हूं और हम सिर्फ एक ही सीट पर चुनाव लड़ेंगे। लेकिन वे लोग इस बात को लेकर राजी नहीं हुए और मेरा इस्तीफा भी स्वीकार नहीं किया गया। मैंने चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज करा दी है।

बता दें कि ओम प्रकाश राजभर पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांग जन सशक्तिकरण मंत्री के पद थे। उन्होंने विधानसभा चुनाव बीजेपी के साथ मिलकर लड़ा था अब जब पूर्वांचल में अंतिम चरणों में चुनाव होना ऐसे में राजभर का साथ छोड़ना बीजेपी को नुकसान पहुंचा सकता है।