भाजपा नेताओं द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का अपमान किए जाने का सिलसिला जारी है। अब उदयपुर में BJP के पूर्व जिलाध्यक्ष दिनेश भट्ट की फेसबुक वॉल से महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे का महिमामंडन करने की कोशिश की गई है।

दिनेश भट्ट ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा, “नाथूराम गोडसे आतंकी थे या महापुरुष, करवाओ जनमत संग्रह, हो जाएगा दूध का दूध, पानी का पानी”। हालांकि विवाद बढ़ने के बाद भट्ट ने फेसबुक से अपनी इस पोस्ट को हटा लिया। दिनेश भट्ट ने बाद में भले ही यह पोस्ट हटा लिया हो, लेकिन हैरानी की बात तो यह है कि उनके इस पोस्ट का सोशल मीडिया पर भाजपा समर्थक कई युवाओं ने स्वागत किया है।

BJP नेताओं द्वारा गांधी के अपमान पर भड़के महिंद्रा, कहा- एक दिन ये देश को तालिबान बना देंगे

बता दें कि गोडसे पर एक बार फिर बहस मालेगांव बम धमाके की आरोपी एवं भोपाल से BJP की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा द्वारा गोडसे का महिमामंडन करते हुए उसे देशभक्त बताए जाने के बाद शुरु हुई है।

साध्वी प्रज्ञा ने चुनावी प्रचार के दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा था, “नाथूराम गोडसे देशभक्त थे और हमेशा रहेंगे। वैसे लोग जो उन्हें आतंकी कह रहे हैं उन्हें खुद के अंदर झांक कर देखना चाहिए। ऐसे लोगों को चुनाव के बाद जवाब मिल जाएगा।”

केदारनाथ में रेड कार्पेट पर दिखे मोदी, रवीश बोले- भक्ति के नाम पर अभिनय कर रहे हैं प्रधानमंत्री

साध्वी प्रज्ञा के इस बयान पर BJP को चौतरफा आलोचना का सामना करना पड़ा था। जिसके बाद BJP ने साध्वी प्रज्ञा को फटकार लगाते हुए उनसे माफी मांगने के लिए कहा था। इसके कुछ ही घंटों बाद ही साध्वी प्रज्ञा ने अपने इस बयान को वापस लेते हुए इसे निजी बयान बताया और इसके लिए माफी मांग ली थी।

हालांकि उनकी माफी पर केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने आपत्ति जताई थी। उन्होंने भी महात्मा गांधी का अपमान करते हुए कहा था कि गोडसे पर माफी मांगने की ज़रूरत नहीं।