लोकसभा चुनाव 2019 के लिए आदर्श आचार संहिता लागू होते ही पुलिस-प्रशासन एक्शन में आ गया है। दोनों की सयुंक्त टीमें सड़कों पर उतर कर राजनैतिक दलों के होर्डिंग और बैनर उतारने का काम कर रही हैं।

एकेले यूपी के गौतमबुद्धनगर में 24 घंटे के भीतर 3,600 से ज्यादा पोस्टर्स, होर्डिंग्स और दीवारों पर किए गए पेंट प्रशासन ने हटाए हैं। गौतमबुद्धनगर जिला प्रशासन ने सीआरपीसी की धारा 144 को लागू करने की घोषणा की है। ये कानून चार लोगों के इकठ्ठा होने पर रोक लगाता है।

बता दें कि, चुनाव आयोग ने 10 अप्रैल को 17 वें लोकसभा चुनाव के लिए तारीखों की घोषणा कर दी है। पहले चरण के लिए मतदान 11 अप्रैल को और आखिरी चरण के मतदान 19 मई को डाले जाएंगे। वहीं चुनाव के नतीजे 23 मई को आएंगे।

इस खबर के बीच यूपी के ही शाहजहांपुर में आदर्श आचार संहिता तोड़ने पर विश्व हिन्दू परिषद के 50 कार्यकर्ताओं के साथ 100 अन्य लोगों के ऊपर केस दर्ज किया गया है। इसमें विश्व हिन्दू परिषद के जिला को-ऑडीनेटर राजेश अवस्थी का भी नाम शामिल है।

शाहजहांपुर के मुख्य विकास अधिकारी महेंद्र संघ तोमर ने बताया कि, “वीएचपी के नेता और कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट का गेट बंद कर धरना दिया।” उन्होंने बताया कि, वीएचपी कार्यकर्ताओं को अधिकारीयों को अपने कार्यालय तक पहुँचने और उनके कम में अड़चन डालने के जुर्म में मामला दर्ज किया है। जिलाधिकारी अमृत त्रिपाठी के आदेश पर सदर थाने में मामला दर्ज किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 + five =